उत्तराखंड: प्रदेशभर में धूमधाम से मनाया गया राज्य स्थापना दिवस, प्रदर्शित की गई ‘‘केदारखण्ड से मानसखण्ड’’ झांकी

ख़बर शेयर करें 👉

देहरादून। उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मु ने मुख्य अतिथि के रुप में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि), मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।
इस अवसर पर सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग द्वारा प्रदर्शित ‘‘केदारखण्ड से मानसखण्ड’’ झांकी के माध्यम से राज्य के प्रमुख धार्मिक स्थलों, समृद्ध सांस्कृतिक विरासत, जैव विविधता, हिमाच्छादित उच्च पर्वत श्रृंखलाओं की समग्रता से परिचित कराने का प्रयास किया गया। इस दौरान महानिदेशक सूचना बंशीधर तिवारी ने बताया कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के मार्गदर्शन के उपरान्त मानसखण्ड पर आधारित झांकी इस वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रदर्शित की गई जिसे प्रथम स्थान प्राप्त हुआ।

केदारनाथ व बदरीनाथ की तर्ज पर कुमाऊ के पौराणिक मंदिरों के लिए मानसखण्ड मंदिर माला मिशन योजना पर काम किया जा रहा है। मुख्यमंत्री के विजन के अनुसार पहले चरण में जागेश्वर महादेव के साथ करीब 2 दर्जन से अधिक मंदिरों को इसमें शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि सदियों से उत्तराखण्ड की देश-दुनिया में देवभूमि के रूप में अपनी विशिष्ट पहचान रही है। बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री यमुनोत्री के साथ अन्य मंदिरों का वर्णन जहां केदारखण्ड में वर्णित है वहीं मानसखण्ड के जागेश्वर, बागेश्वर सहित अन्य मंदिर समूह राज्य को देवभूमि बनाते है। इस अवसर पर मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु सहित जनप्रतिनिधि एवं अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।