भीमताल क्षेत्र में दहशत फैलाने वाला खूंखार गुलदार पिंजरे में हुआ कैद,….देखें वीडियो

ख़बर शेयर करें 👉

भीमताल। नैनीताल जिले के धारी ब्लॉक के ग्राम दुदली में एक तेंदुआ पिंजरे में कैद हुआ है। वन विभाग के अधिकारी मौक़े के लिए रवाना। डी.एफ.ओ.चंद्रशेखर जोशी ने बताया कि दुधली में पकड़े गए गुलदार के सैम्पल लेकर जांच की जाएगी, कि ये वही हमलावर नरभक्षी है या नहीं।

आपको बतादें कि नैनीताल जिले में भीमताल का एक बड़ा क्षेत्र इन दिनों तीन महिलाओं को हिंसक वन्यजीव द्वारा शिकार बनाए जाने के लिए चर्चाओं में है। शासन ने गुलदार को नरभक्षी घोषित करते हुए मारने के आदेश दिए थे, जिसके बाद उच्च न्यायालय ने स्वतः संज्ञान लेकर उसे सीधे मारने से मना कर दिया था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: युवाओं के लिए खुशखबरी, इस जिले में लगेगा रोजगार मेला, 1500 से ज्यादा होंगी भर्तियां

न्यायालय में नरभक्षी को गुलदार या बाघ चिन्हित कर पाने में असफल होने पर न्यायालय ने पहले उसे चिन्हित कर कब्जे में लेने को कहा था। विभाग ने हिंसक वन्यजीव को पकड़ने के लिए 14 पिंजरे और 36 कैमरा ट्रैप लगाए। इसके अलावा कई गश्ती दल और ड्रोन कैमरे से हिंसक वन्यजीव की लोकेशन को तलाशा गया। आज सवेरे, बाघ और गुलदार के असमंजस के बीच बड़ोंन रेंज के दुधली गांव में एक गुलदार पिंजरे में कैद हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: यहां पति की हत्या में पत्नी समेत तीन को आजीवन कारावास की सजा

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि पिंजरे में कैद तेंदुआ आदमखोर है या कोई दूसरा है। इसकी पुष्टि नहीं है। प्रमुख ने पुष्टि होने तक सभी क्षेत्र वासियों को सावधानी बरतने की अपील की है।