उत्तराखंड को आज मिलेगी पहली वंदे भारत, PM मोदी दिखाएंगे हरी झंडी,…..जानिए इसका रूट

ख़बर शेयर करें 👉

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देहरादून से दिल्ली के बीच चलने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को आज को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. यह उत्तराखंड में शुरू होने वाली पहली वंदे भारत ट्रेन है. यह ट्रेन उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनल के बीच चलेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 मई यानि आज इस ट्रेन को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हरी झंडी दिखाएंगे. यह उत्तराखंड की पहली, दिल्ली की छठी और देश की 17वीं वंदे भारत ट्रेन होगी.

पीएम मोदी ने अपने एक ट्वीट में लिखा, ‘उत्तराखंड की कनेक्टिविटी को बड़ा बढ़ावा मिलने वाला है. आज सुबह 11 बजे मैं दिल्ली और देहरादून के बीच वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाऊंगा. इस अवसर को और भी खास बनाते हुए उत्तराखंड की रेल पटरियों के 100 फीसदी विद्युतीकरण की उपलब्धि है. कार्यक्रम में जरूर शामिल हों.

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के मुताबिक प्रधानमंत्री इस अवसर पर नए विद्युतीकृत रेल खंडों को भी राष्ट्र को समर्पित करेंगे. पीएमओ ने कहा, ”प्रधानमंत्री मोदी 25 मई को सुबह 11 बजे वीडियो कांफ्रेंस के जरिए देहरादून से दिल्ली के लिए वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे.”

रेल मंत्रालय के मुताबिक देहरादून-दिल्ली वंदे भारत ट्रेन का रेगुलर रन 29 मई से होगा. 25 मई को यह ट्रेन देहरादून से दिल्ली के लिए चलेगी. आठ कोच की 22458/22457 देहरादून-आनंद विहार टर्मिनल-देहरादून वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन हफ्ते में छह दिन चलेगी. यह बुधवार को नहीं चलेगी.

यह ट्रेन सुबह 7 बजे देहरादून से चलेगी और 11.45 बजे आनंद विहार टर्मिनल पहुंचेगी. वापसी में यह शाम 5.50 बजे आनंद विहार से खुलेगी और रात 10.35 बजे देहरादून पहुंचेगी. रास्ते में यह ट्रेन हरिद्वार, रुड़की, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और मेरठ सिटी स्टेशनों पर रुकेगी.

पीएमओ के मुताबिक यह उत्तराखंड में शुरू होने वाली पहली वंदे भारत ट्रेन होगी जो विश्व स्तरीय सुविधाओं के साथ, राज्य की यात्रा करने वाले पर्यटकों के लिए आरामदायक यात्रा के एक नए युग की शुरुआत करेगी. इस वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का निर्माण स्वदेश में किया गया है और यह ‘कवच’ तकनीक सहित उन्नत सुरक्षा सुविधाओं से लैस है.

पीएमओ ने कहा कि सार्वजनिक परिवहन के स्वच्छ साधन प्रदान करने के प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण के अनुरूप भारतीय रेलवे देश में रेल मार्गों का सौ प्रतिशत विद्युतीकृत करने की कोशिश में है. इस दिशा में आगे बढ़ते हुए प्रधानमंत्री उत्तराखंड में नए विद्युतीकृत रेल लाइन खंडों को देश को समर्पित करेंगे.

पीएमओ ने कहा कि इसके साथ ही उत्तराखंड में पूरे रेल मार्ग का 100 प्रतिशत विद्युतीकृत पूरा हो जाएगा. उसने कहा, ”विद्युतीकृत खंडों पर बिजली द्वारा चलाई जाने वाली ट्रेनों के परिणामस्वरूप ट्रेनों की गति में वृद्धि होगी और ढुलाई क्षमता भी बढ़ेगी.”