उत्तराखंड: यहां पीआरडी जवान 30 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार, दरोगा फरार

ख़बर शेयर करें 👉

हरिद्वार। विजिलेंस ने झगड़े के मुकदमे में गम्भीर धाराओं का भय दिखाने वाले सब इंस्पेक्टर व पीआरडी जवान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। 30 हजार की रिश्वत लेते पीआरडी जवान को गिरफ्तार कर लिया। जबकि सब इंस्पेक्टर मौके से फरार हो गया। थाना बहादराबाद में दारोगा व पीआरडी जवान कर खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

शिकायतकर्ता ने 9 जनवरी 2024 को सतर्कता अधिष्ठान के टोल फ्री हेल्प लाईन न0 1064 पर शिकायत दर्ज कराई कि उसके गाँव की रहने वाली महिला ने 2 जनवरी को थाना बहादराबाद जनपद हरिद्वार में उसके व 13 अन्य लोगो के विरुद्ध मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले की जांच शांतरशाह चौकी में तैनात एसआई पंकज कुमार कर रहे थे। दारोगा ने मुकदमे में बड़ी धारा लगा कर जेल भेजने का डर दिखाकर बार-बार सेवा करने के नाम पर रिश्वत की मांग कर रहे। कुछ समय पहले जरूरी खर्च बताकर 20 हजार रुपए ले भी चुके है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand :धामी कैबिनेट की बैठक संपन्न इन फैसलों पर लगी मुहर….

इसके अलावा मुकदमा खत्म करने के एवज में 30-40 हजार रुपये की और मांग कर रहे। शिकायत पर सतर्कता अधिष्ठान सेक्टर देहरादून ने ट्रैप टीम का गठन किया । टीम ने 10 जनवरी को पीआरडी जवान सुरेन्द्र कुमार को शिकायतकर्ता से 30 हजार की घूस लेते गिरफ्तार कर लिया। जबकि एसआई पंकज कुमार लोगों की आवाजाही का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गया ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : यहां गहरी खाई में गिरी कार, परिवार के दो लोगों की मौत, चार घायल

तत्पश्चात दोनों अभियुक्तों पीआरडी जवान सुरेन्द्र कुमार एवं एसआई पंकज कुमार चौकी शांतरशाह थाना बहादराबाद जनपद हरिद्वार के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत मुकदमा पंजीकृत कर विवेचना जारी है। सतर्कता अधिष्ठान के टोल-फ्री हैल्पलाईन न0 1064 एवं Whatsapp हैल्पलाईन नं. 9456592300 पर 24×7 सम्पर्क कर भ्रष्टाचार के विरुद्ध अभियान में अपना महत्त्वपूर्ण योगदान दें ।