हल्द्वानी: गोरापड़ाव में हुए नंदी हत्याकांड का खुलासा,…..बीड़ी नहीं देने पर की हत्या

ख़बर शेयर करें 👉

हल्द्वानी। एसएसपी पंकज भट्ट ने गोरापड़ाव में हुए नंदी हत्याकांड का खुलासा किया। हत्याकांड के खुलासे को लेकर कई तेजतर्रार पुलिसकर्मियों की टीमें लगाई थी। हत्यारे तक पहुंचने के लिए पुलिस को काफी मेहनत करनी पड़ी। घटना स्थल के आसपास सीसीटीवी न होना पुलिस के लिए चुनौती बन गया। आखिरकार 12 दिन बीत जाने के के बाद पुलिस नंदी के असल कातिल तक पहुंच गई। नंदी का हत्यारा कोई और नहीं बल्कि उसी का पड़ोसी के यह रहने वाला किरायेदार निकला। आरोपी द्वारा गिरवी रखा नंदी का मोबाइल कातिल तक पहुंचने का रास्ता बन गया।

गौरतलब है कि विगत 5 मई को गौरापड़ाव हैड़ागज्जर स्थित नंदी देवी का उसी के घर में हत्यारे ने दुपट्टे से गला घोंटकर हत्या कर दी थी। पुलिस के बाद जब पुलिस घटना स्थल पर पहुंची तो कई सबूत जुटाये। लेकिन पुलिस कातिल तक पहुंचने में नाकाम रही। हत्याकांड के खुलासे के लिए पुलिस ने कई संदिग्धों से पूछताछ की, हत्याकांड की रात पड़ोस में हुई बर्थडे पार्टी में शामिल लड़कों से भी पूछताछ की गई, लेकिन कोई अहम सुराग हाथ नहीं लगा। पुलिस हत्याकांड के लिए लगातार प्रयास कर रही थी इसी बीच तभी मृतका का गायब मोबाइल किसी स्थानीय व्यक्ति के पास मिला। जब पुलिस ने पूछताछ की तो उसने बताया कि कोई और व्यक्ति जुआ खेलने के दौरान मोबाइल गिरवी रख कर गया था कि वह पैसे लाएगा तो मोबाइल वापस ले जाएगा लेकिन वह व्यक्ति मोबाइल वापस नहीं ले गया। पुलिस जांच में मोबाइल नंदी का निकला। जिसके पास उस व्यक्ति की तलाश की गई। इस दौरान पता चला कि मनोज पुरी निवासी नवाबगंज बरेली उत्तर प्रदेश नंदी के पड़ोस में किराए के मकान में अकेले निवास करता है तथा गौला में रेता बजरी का कार्य करता है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

हत्यारोपी ने बताया कि ने बताया कि वह पड़ोस में रहने वाली नंदी आंटी के यहां बीड़ी देने गया था लेकिन उसके पास पैसे खुले नहीं थे, ऐसे में उसने उधार बीड़ी उधर मांगी, लेकिन नंदी ने उसे अपशब्द कहते हुए बीड़ी नहीं दी। यह बात उसे चुभ गई। इसके बाद वह कमरे में गया और उसने नंदी को ठिकाने लगाने की योजना बना ली है। देर रात सभी लोगों के सो जाने के बाद अपने कमरे बाहर निकला। वह नंदी के घर के सामने छुप गया और दरवाजे खुलने का इंतजार करता रहा। जैसे ही नंदी ने दरवाजा खोला तो उसने नंदी के सिर पर हथौड़े से वार कर दिया। जिससे नंदी अंदर की ओर गिर गई। उसके बाद से लगातार उसके ऊपर वार करता रहा। नंदी वही पर चित हो गई फिर उसने दुपट्टे से नंदी का गला घोट दिया। उसके बाद को खींचकर बाथरूम में ले गया। जहां उसका सिर टब में डुबो दिया इसके बाद वह नंदी के घर में गया। जहां से उसने बैग कपड़े और नकदी और मोबाइल लिए और फरार हो गया। अगले दिन वह गौला गेट पर जुआ खेलते हुए पैसे हार गया और मोबाइल उसने गिरवी रख दिया। इसके बाद वह अपने घर चले गया। लेकिन गिरवी रखा मोबाइल पुलिस को कातिल तक पहुंचाने में कामयाब रहा। पुलिस उसे कोर्ट पेश करने जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *