सदी के महानायक “बिग बी” अभिताभ बच्चन को भेंट की मां भद्रकाली पर लिखी वरिष्ठ पत्रकार रमाकांत पंत की पुस्तक

ख़बर शेयर करें 👉
  • सदी के महानायक बिग बी अभिताभ बच्चन को माँ भद्रकाली पुस्तक भेंट मंदिर के उत्तरोत्तर विकास और उत्तराखण्ड में पर्यटन को बढ़ावा देने के क्रम में
  • एक और कदमउत्तराखण्ड के प्रति अपना स्नेह व्यक्त कर भावुक हुए सदी के महानायक
  • देवभूमि में धार्मिक पर्यटन को विकसित करनें का दिया सुझाव

मुंबई/ फिल्म के क्षेत्र में अपनी महान् उपलब्धियों के लिए सदी के महानायक मानें जानें वाले अमिताभ बच्चन को वरिष्ठ पत्रकार रमाकान्त पन्त द्वारा संकलित लिखित माँ भद्रकाली पुस्तक भेट कर माँ भद्रकाली मंदिर समिति के मुख्य संरक्षक पुस्तक के प्रकाशक एवं आचार्य योगेश पंत व वरिष्ठ तेज तर्रार पुलिस अधिकारी दिनेश नेगी ने उन्हें भद्रकाली मंदिर आनें का निमंत्रण दिया पुस्तक को उन्होनें सादर प्रणाम करते हुए इसे प्रसाद मानकर ग्रहण किया अभिताभ बच्चन ने कहा माँ भद्रकाली के चरणों में उनकी बहुत श्रद्वा है इस अवसर पर वह न केवल गदगद थे अपितु अत्यधिक भाव विभोर हो गये

उत्तराखंड की नैसर्गिक सुंदरता को प्रकृति की अनमोल धरोहर बताते हुए उन्होंने देवभूमि उत्तराखंड के प्रति अपनी आस्था श्रद्धा व स्नेह व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तराखंड सचमुच देवभूमि है। यहाँ के देवस्थलो की महिमां अपरम्पार है उत्तराखण्ड में धार्मिक तीर्थाटन एवं पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। उत्तराखंड की दिव्यता और भव्यता उन्हें बहुत भाती है देवभूमि के देवालयों के प्रति उनके हृदय में अपार श्रद्वा व निष्ठा है साथ ही उन्होंने कहा कि माँ भद्रकाली के चरणों में उनकी गहरी प्रीति है आचार्य योगेश पन्त से उन्होने जनपद बागेश्वर के कमस्यार घाटी में स्थित माँ भद्रकाली दरबार के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त की माँ भद्रकाली पुस्तक प्रदान किये जानें पर धन्यवाद अदा करते हुए बिग बी ने कहा उन्हें पुस्तक के रूप में माँ की कृपा प्राप्त हुई है।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल: कैंची धाम मेले को लेकर 14 व 15 को रहेगा यातायात डायवर्ट, देखें रूट……


मुंबई फिल्म सीटी गोरे गॉव में एक मुलाकात में आचार्य योगेश पंत व पुलिस अधिकारी दिनेश नेगी ने उन्हें माँ भद्रकाली पुस्तक भेंट कर यहाँ के देव दरबारों पर चर्चा की उल्लेखनीय है कि जनपद बागेश्वर के कमस्यार घाटी में स्थित प्राचीन शक्ति पीठ माँ भद्रकाली दरबार की महिमां बड़ी ही अपरम्पार है स्कंद पुराण के मानस खण्ड में देवी के इस दरबार का विस्तृत वर्णन मिलता है तीर्थाटन के लिहाज से यह स्थान जितना अलौकिक है उतना ही रमणीक भी इस गुमनाम स्थल को प्रकाश में लानें के लिए श्री पंत व श्री नेगी ने अपनें स्तर बड़े ही प्रयास किये है उत्तराखंड सरकार भी यहाँ के विकास के प्रति सजग है बीते कुछ वर्षों में सरकार व स्थानीय भक्तजनों के सहयोग से मंदिर को भव्य रूप प्रदान किया है।