उत्तराखंड: चारधाम में यू ट्यूब और रील बनाने वालों के लिए बड़ी खबर, मंदिर में किया मोबाइल का इस्तेमाल तो होगी सख्त कार्रवाई

ख़बर शेयर करें 👉

उत्तराखंड। चारधाम यात्रा करने के लिए प्रतिदिन लाखों श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। लेकिन ऐसे कई लोग हैं जो सिर्फ यहां घूमने और रील बनाने आ रहे हैं। ऐसे में चारधाम यात्रा को लेकर एक बहुत बड़ा अपडेट सामने आया है। अब मंदिर से 200 मीटर तक मोबाइल प्रतिबंधित रहेंगे। मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने इस संबंध में दिशा- निर्देश जारी करते हुए कहा है कि नियमों का पालन नहीं करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

लोगों की आस्था को पहुंच रही है ठेस
उत्तराखंड की मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने चारधाम यात्रा को लेकर कहा है कि बहुत ज्यादा संख्या में श्रद्धालु चारधाम यात्रा के लिए आ रहे हैं। इस दौरान कई लोग ऐसे भी पहुंच रहे जो आस्था नहीं बल्कि केवल घूमने के लिए आ रहे हैं और उनकी कुछ हरकतों की वजह से लोगों की आस्था को ठेस पहुंच रही है। उन्होंने कहा कि इस बात पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है कि यहां भक्तों की आस्था को कोई ठेस न पहुंचे और धार्मिक भावनाएं आहत नहीं हों। उन्होंने कहा कि तीर्थयात्रियों के लिए सारी व्यवस्था की गई है। और हम सभी प्रदेशों के मुख्य सचिव को पत्र भेज रहे हैं कि कोई श्रद्धालु अपंजीकृत वाहन में या अपंजीकृत तरीके से यहां ना आएं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: यहां डिप्टी जेलर पर महिला ने लगाया दुष्कर्म का आरोप, मुकदमा दर्ज

पांच दिन में इतने भक्त पहुंचे केदारनाथ
वहीं इस साल चारधाम के कपाट खुलते ही यात्री भारी संख्या में यहां दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। इस बार भक्तों की संख्या पिछले कुछ सालों की तुलना में कई गुना अधिक देखी जा रही है। कपाट खुलने के केवल पांच दिन के अंदर ही केदारनाथ धाम के दर्शन के लिए 155584 भक्त यहां पहुंच गए हैं। लेकिन चारधाम आने वाले यात्रियों में से कुछ यात्री ऐसे भी हैं जो यहां सिर्फ मौज मस्ती करने आ रहे हैं। और कुछ ऐसी हरकतें करते हैं जिससे लोगों की आस्था को ठेस पहुंचती है।