उत्तराखंड: यहां दो नाबालिक बहनों के साथ विशेष समुदाय के लड़कों ने होटल में किया दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें 👉

देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी से दुष्कर्म का एक सनसनीखेज मामला सामने आ रहा है। यहां चमोली की रहने वाली 2 नाबालिग बहनों को सहस्रधारा के होटल में ले जाकर धर्म विशेष के 2 आरोपियों ने किया दुष्कर्म। पुलिस ने सोमवार को दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपी युवक मोटर मैकेनिक हैं। दोनों आरोपियों के खिलाफ राजपुर थाना पुलिस ने पॉक्सो और दुष्कर्म की अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है । आरोपियों गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

एसओ राजपुर पीडी भट्ट ने पूरी जानकारी देते हुए बताया कि चमोली जिला निवासी 2 सगी बहनें देहरादून में रहती हैं। दोनों नाबालिगों के माता-पिता की कुछ वर्ष पूर्व मौत हो चुकी है। इनमें छोटी बहन की उम्र करीब 14 वर्ष और बड़ी की उम्र 16 वर्ष है। आरोप है कि 14 वर्षीय छोटी बहन से कुछ दिन पहले 21 वर्षीय आरोपी अहतसाम, आजादनगर कॉलोनी, निकट सहस्त्रधारा क्रॉसिंग ने बातचीत शुरू की। इसके बाद आरोपी ने उसकी बड़ी बहन से अपने परिचित 26 वर्षीय आरोपी साहिल हाल निवासी चूना भट्ठा, मूल निवासी कांधला, सहारनपुर का परिचय कराया। आरोप है कि आरोपी साहिल ने 16 वर्षीय किशोरी को अपने प्रेमजाल में फंसा लिया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: लोक सेवा आयोग की परिधि से बाहर हुए समूह 'ग' के आठ पद, कार्मिक विभाग ने जारी किए आदेश

दोनों आरोपी रविवार शाम को दोनों बहनों को घुमाने के नाम पर सहस्रधारा घुमाने ले गए। आरोप है कि दोनों ने सहस्रधारा में हेरिटेज होटल में कमरा लिया और रात को वहां ठहरे। इस दौरान दोनों आरोपियों ने दोनों बहनों से दुष्कर्म किया। जब रात होने पर भी दोनों बहनें घर नहीं पहुंची तो स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। जिस पर राजपुर थाना पुलिस ने तलाशते हुए सहस्रधारा स्थित हेरिटेज होटल से दोनों बहनों को बरामद किया।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं: कोतवाली पुलिस ने लंबे समय से फरार चल रहे वारंटी को किया गिरफ्तार

एसओ राजपुर पीडी भट्ट ने बताया कि दोनों बहनों के साथ मौके पर मिले दोनों आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों नाबालिग लड़कियों के बयान के आधार पर दोनों पर दुष्कर्म और पॉक्सो ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।