पिथौरागढ़: यहां आकाशीय बिजली गिरने आए 85 बकरियों की मौत

ख़बर शेयर करें 👉

पिथौरागढ़। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में मौसम का मिजाज पल-पल बदल रहा है। प्रदेश के सीमांत जिले पिथौरागढ़ के मुनस्यारी विकासखंड में अचानक तेज अंधड़ और तूफान आ गया। इस दौरान विकास खंड के विभिन्न गांवों के पशुपालकों की करीब 85 बकरियां आकाशीय बिजली की चपेट में आ गई और उनकी मौत हो गई।

मिली जानकारी के मुताबिक रविवार देर शाम मुनस्यारी विकास खंड के होकरा, गोला, खोयम गांव निवासी जसमल सिंह, गंगा सिंह, किशन सिंह, सुर सिंह, जगदीश सिंह और मान सिंह अपनी बकरियों को चराने के लिए पास के जंगल में ले गए थे। इसी बीच अचानक मौसम का मिजाज बिगड़ गया और तेज अंधड़ के साथ तूफान आने लगा।

यह भी पढ़ें 👉  13 जून का राशिफल: जानिए, क्या कहते हैं आज आपके भाग्य के सितारे,….पढ़ें आज का दैनिक राशिफल

इस बीच तेज गर्जन के साथ आकाशीय बिजली गिरी जिससे चपेट में आने से जंगल में चर रही करीब 85 बकरियों की मौत हो गई। क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता भगत वाछमी ने बताया कि ग्रामीण पशुपालन कर अपने परिवार को गुजर बसर करते थे। लेकिन अचानक हुई इस घटना के बाद इन पशुपालकों की कमर टूट गई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: यहां नदी में नहाने गए नव दंपति की डूबने से मौत, तीन माह पहले हुई थी शादी

वाछमी ने कहा है कि, इस घटना से किसानों को लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। जिस कारण अब उनकी आजीविका प्रभावित होने की संभावना बनी हुई है। वाछमी ने जिला प्रशासन से प्रभावित पशुपालकों को आपदा मद से मुआवजा दिए जाने की मांग की है ताकि उनकी आजीविका प्रभावित न हो सके।