नैनीताल: यहां जंगल में लकड़ी लेने गई महिला को बाघ ने उतारा मौत के घाट

ख़बर शेयर करें 👉

नैनीताल। जिले के रामनगर से से दर्दनाक हादसे की खबर सामने आई है। कॉर्बेट टाइगर रिजर्व (सीटीआर) के ढेला रेंज के जंगल में लकड़ी बीनने गई महिला पर बाघ ने हमला करके उसे मौत के घाट उतार दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, ढेला रेज के पंजाबपुर गांव की कलावती उर्फ कला देवी (50) पुत्री ध्यान सिंह माता-पिता के साथ रहती थी। शनिवार दोपहर एक बजे वह गांव की तीन अन्य महिलाओं के साथ लकड़ी और घास लेने जंगल में गई थी। वहां बाघ ने उस पर हमला कर दिया। बाघ उसे करीब दो किलोमीटर तक जंगल में घसीटता ले गया। अन्य महिलाओं के शोर मचाने पर बाघ ने दहाड़ मारी तो महिलाएं घबरा गई और गांव आकर अन्य ग्रामीणों को सूचना दी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: मधुकर, कुनाल व बृजेश ने ली भाजपा की सदस्यता, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेश भट्ट रहे मौजूद

सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम और ग्रामीणों ने महिला के शव को खोजने के लिए जंगल में सर्च अभियान चलाया। काफी देर बाद महिला का शव जंगल में लहूलुहान हालत में मिला। महिला के सिर का कुछ हिस्सा बाघ खा चुका था। महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल ले जाया गया है। बताया गया है कि मृतक महिला दुर्गा देवी अकेली रहती थी,व लकड़ी व घास बेचकर गुजारा किया करती थी ,मृतक की एक लड़की बताई जा रही है। जिसकी शादी हो चुकी है।