लालकुआं: यहां वन विकास निगम में करोड़ों का घोटाला, दो कर्मचारी निलंबित

ख़बर शेयर करें 👉

लालकुआं। उत्तराखंड राज्य वन विकास निगम के नैनीताल जिले के लालकुआं स्थित डिपो नंबर 5 और 4 में आंतरिक ऑडिट रिपोर्ट में 6 करोड़ से अधिक की गड़बड़ी का मामला सामने आया है. ऑडिट रिपोर्ट सामने आने के बाद मुख्यालय ने एसआईटी जांच की सुकृति की है. वही गड़बड़ी सामने आने के बाद क्षेत्रीय प्रबंधक वन विकास निगम ने लालकुआं स्थित वन विकास निगम के डिपो नंबर चार के लेखाकार पद पर तैनात दो लोगों को सस्पेंड करने की कार्रवाई की है।

क्षेत्रीय प्रबंधक बाल विकास निगम महेश चंद्र आर्य ने बताया कि अगस्त 2023 में लालकुआं स्थित डिपो संख्या पांच में नीलामी लकड़ी बिक्री में ठेकेदार और कर्मचारियों की मिलीभगत से करीब 9 लाख के वित्तीय घपले का प्रकरण सामने आया था जांच में प्रथम दृष्टया नीलामी की निर्धारित कीमत से कम रकम का बिल बनाकर सरकारी धन का घोटाला किया गया है। इसके बाद उनके द्वारा डिपो नंबर पांच और चार ऑडिट करने के लिए मुख्यालय को पत्र लिखा गया जिसके बाद आंतरिक ऑडिट रिपोर्ट सामने आई है जहां गड़बड़ी का मामला सामने आया है।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं: यहां आईटीबीपी के जवान का पेड़ से लटका मिला शव, मचा हड़कंप, जांच में जुटी पुलिस

पूर्व में डिपो संख्या पांच में हुई गड़बड़ी के मामले में संलिप्त चार अधिकारियों-कर्मचारियों पर निलंबन की कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज कराया गया था. ऐसे में अब आंतरिक ऑडिट रिपोर्ट सामने आई है जहां डिपो नंबर चार में करीब डेढ़ करोड़ की गड़बड़ी सामने आई है, जहां लकड़ी की उठान की लौट उठान की प्लांटी सहित वित्तीय अनियमिताएं सामने आई है जहां जिम्मेदार दो कर्मचारियों द्वारा स्पष्ट जवाब नहीं दिए जाने पर उनका निलंबन करने की कार्रवाई की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  UKPSC की इस भर्ती परीक्षा को लेकर आया बड़ा अपडेट, पढ़िए……

इसके अलावा पूरे मामले में एसआईटी से जांच कराई शुरू होने जा रही है. डिपो हुए में राजस्व हानि, अवैध निकासी, गबन और वित्तीय अनियमिताएं प्रकरण में जो भी दोषी कर्मचारी होगा उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी.