उत्तराखंड: यहां डिप्टी जेलर पर महिला ने लगाया दुष्कर्म का आरोप, मुकदमा दर्ज

ख़बर शेयर करें 👉

चमोली। जिला कारागार पुरसाड़ी में तैनात डिप्टी जेलर पर बिजनौर यूपी की युवती ने दुष्कर्म और जान से मारने की धमकी देने के गंभीर आरोप लगाए हैं। पीड़िता ने मामले में कोतवाली चमोली में इस संबंध में तहरीर दी है। पुलिस ने डिप्टी जेलर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

चमोली के पुरसाड़ी में रुद्रप्रयाग और चमोली जनपद का संयुक्त कारागार है। यहां तैनात डिप्टी जेलर नईम अब्बास पर एक युवती ने दुष्कर्म और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाते हुए कोतवाली चमोली में तहरीर दी। कोतवाल राजेंद्र रावत ने बताया कि जब डिप्टी जेलर हरिद्वार में सेवारत थे तब उनकी युवती से दोस्ती हुई थी। उनकी चमोली में तैनाती हुई तो पीड़िता का यहां भी आना-जाना रहता था। मंगलवार को भी दोपहर में वह यहां आई थी। युवती का आरोप है कि डिप्टी जेलर ने उसके साथ जबरदस्ती संबंध बनाए। साथ ही जान से मारने की धमकी भी दी। पीड़िता की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: चारधाम में यू ट्यूब और रील बनाने वालों के लिए बड़ी खबर, मंदिर में किया मोबाइल का इस्तेमाल तो होगी सख्त कार्रवाई

डिप्टी जेलर नईम अब्बास जिला अस्पताल गोपेश्वर में भर्ती है। अस्वस्थ होने के कारण मंगलवार रात को डिप्टी जेलर को अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने पुलिस को दिए बयान में पीड़िता पर आरोप लगाया कि वह उसे लंबे समय से उन्हें ब्लैकमेल कर 20 लाख रुपये की डिमांड कर रही है। रात को उसने पानी में जहरीला पदार्थ मिलाकर उन्हें खिला दिया, जिससे उनकी तबीयत बिगड़ गई। उन्होंने युवती के आरोपों को बेबुनियाद बताया। जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. अनुराग धनिक ने बताया कि जेलर की जांच में कीटनाशक पदार्थ खाने की पुष्टि हुई है। हालांकि उपचार के बाद उनकी हालत ठीक है।